News

तीन तरह के लोग होते है - Non-Active, Active and Self-Active

पूरी दुनिया में कार्य करने की क्षमता के आधार पर 3 तरीके के लोग आपको मिलेगे - 1. नॉन-एक्टिव, 2. एक्टिव और 3. सेल्फ-एक्टिव |
आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की इन तीनों प्रकार के लोगों में क्या खूबियाँ होती है |  इन्ही लोगों में से कुछ लोग बहुत कामयाब बन जाते है और कुछ लोग सिर्फ अपने जीवन का गुजारा ही कर पाते है और कुछ लोग ऐसे भी होते है जो पूरी जिंदगी परेशान रहते है |

तो चलिए देखते है, एक-एक करके की इन तीनो प्रकार के लोगों की क्या विशेषता होती है |

(घर बैठे मोबाइल से पैसे कमाने की पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये )

 

तीन तरह के लोग होते है : नॉन-एक्टिव, एक्टिव और सेल्फ-एक्टिव |

There are three types of people: Non-Active, Active and Self-Active.

नॉन-एक्टिव लोग ( Non-Active People ) :-

सबसे पहले बात करते है, नॉन-एक्टिव लोगों की, तो इनको नॉन-एक्टिव क्यों बोल जाता है, क्योंकि ये कभी भी अपने दिमाग का प्रयोग नहीं करते है | नॉन-एक्टिव लोग हमेशा प्रत्येक काम को तभी करते है जब कोई इनको उस काम को करने के लिए बोलता है | 

1. यदि नॉन-एक्टिव लोगों को कहीं पर छोड़ दिया जाएँ तो ये अपने दिमाग से वहा पर कोई भी काम शुरू नहीं करेंगे और इंतज़ार करते रहेंगे की कोई बताये की ये काम हमें करना है या नहीं करना है |
2. नॉन-एक्टिव लोगों की सोच बहुत छोटी होती है | इनको किसी भी काम में अपना फायदा दिखाई नहीं देता है, इनको प्रत्येक काम के पीछे किसी और का फायदा दिखाई देता है | इसलिए ये कोई भी काम नहीं करते है, क्योंकि इनको लगता है की अगर हम ये काम करेंगे तो इससे किसी और को फायदा होगा |
3. नॉन-एक्टिव लोग सिर्फ अपने फायदे वाला काम करना ही पसंद करते है, इसलिए इनके पास कोई काम नहीं होता है और ये हमेशा गरीबी की जिंदगी जीते है |
4. यदि कोई व्यक्ति इनको कोई अच्छा काम बता भी देता है तो ये लोग उस काम को ज्यादा समय तक या रेगुलर नहीं करते है | अपने काम को बीच में ही बंद करके बैठ जाते है और अच्छे से अच्छे काम में बुराई निकाल देते है |
5. नॉन-एक्टिव लोगों के पास किसी काम को न करने के हजारों बहाने होते है |
6. नॉन-एक्टिव लोगों को किसी भी काम को करने के लिए तैयार भी कर दिया जाए तो भी ये आपको बता देंगे की ये काम क्यों नहीं हो सकता है |
7. यदि कोई नॉन-एक्टिव व्यक्ति किसी MLM कंपनी को ज्वाइन कर लेता है तो वो हमेशा कहेगा की लोग जुड़ते नहीं है | लेकिन सच ये है की उसने कभी किसी को सही से जोड़ने की कोशिश ही नहीं की होती है |
8. नॉन-एक्टिव लोग बिलकुल भी रिस्क नहीं लेना चाहते है और बिना रिस्क के कोई भी व्यक्ति ज्यादा पैसे नहीं कमा सकता है |
9. नॉन-एक्टिव लोग किसी भी काम को पहले सीखते नहीं है, सीधा करने की कोशिश में अधूरा काम ही करते है |
10. जो लोग लेबर या मजदूरी का काम करते है वो सभी नॉन-एक्टिव लोग होते है |
11. नॉन-एक्टिव लोगों को हमेशा बदनामी का डर रहता है, इसलिए ये कोई भी काम करने से पहले ये सोचते है की कहीं मेरी बदनामी ना हो जाएँ |

एक्टिव लोग ( Active People ) :- 

दुसरे नंबर पर आते है एक्टिव लोग | एक्टिव लोगों की खाब बात ये होती है की ये लोग सीखने के लिए तैयार होते है, और अगर इनको किसी काम को एक बार सीखा दिया जाए तो ये उस काम को अपने आप करते रहते है |

1. एक्टिव लोग अपने काम को लगातार करते रहते है, जबकि नॉन एक्टिव लोग अपने काम को ज्यादा समय तक रेगुलर नहीं करते है |
2. एक्टिव लोग किसी भी काम को सीखने के लिए तैयार रहते है |
3. एक्टिव लोगों को समय - समय पर मोटीवेट करना पड़ता है |
4. एक्टिव लोग अपने फायदे के साथ दुसरे लोगों के फायदे का भी काम करते है, जबकि नॉन-एक्टिव लोग केबल अपने फायदे का काम करते है |
5. एक्टिव लोग किसी भी काम को शुरू करने में पैसे खर्च करने को तैयार रहते है, जबकि नॉन-एक्टिव लोग हर काम को फ्री में शुरू करना चाहते है |
6. एक्टिव लोग समाज में अपनी एक पहचान बना लेते है, जबकि नॉन-एक्टिव लोग अपने जीवन में ज्यादा कुछ नहीं कर पाते है |
7. एक्टिव लोग अपने सीनियर की बातो को ध्यान से सुनते है, जबकि नॉन-एक्टिव लोगों को अपने सीनियर की बात बकबास लगती है |
8. एक्टिव लोग किसी MLM कंपनी में अच्छे लेवल पर होते है वो हर व्यक्ति की जोइनिंग करा देते है, जबकि नॉन-एक्टिव लोगों के साथ कोई नहीं जुड़ता है |
9. एक्टिव लोग छोटा-मोटा रिस्क लेने को तैयार रहते है | जबकि नॉन-एक्टिव लोग कोई रिस्क नहीं लेना चाहते है |
10. एक्टिव लोग कहीं न कही एक अच्छी नौकरी करके बढ़िया इनकम कमा रहे होते है | जबकि नॉन-एक्टिव लोग सिर्फ मजदूरी से पैसे कमाते है |
11. एक्टिव लोग कुछ कामों को इसलिए नहीं करते है की इनको शर्म आती है |

सेल्फ-एक्टिव लोग ( Self-Active People ) :-

तीसरे नंबर पर आते है, सेल्फ एक्टिव लोग | दुनियाँ में जितने भी सफल, कामयाब और अमीर लोग है वो सभी सेल्फ-एक्टिव लोग होते है | सेल्फ एक्टिव लोगों की ख़ास बातें -

1. सेल्फ एक्टिव लोग हमेशा मोटीवेट रहते है और पूरी दुनियाँ को यही लोग मोटीवेट करते है |
2. सेल्फ एक्टिव लोग कोई भी बड़े से बड़ा रिस्क लेने के लिए हमेशा तैयार रहते है |
3. सेल्फ एक्टिव लोग अपना बहुत सा पैसा सिर्फ नये-नये काम शुरू करने में बर्बाद कर देते है |
4. सेल्फ एक्टिव लोग कोई भी चीज फ्री में नहीं लेते है और ना ही फ्री वाले काम करते है |
5. सेल्फ एक्टिव लोग किसी भी परिस्थिति में खुश रहते है और कोई बड़ा नुकसान होने पर भी दोबारा से नुकसान की भरपाई के लिए काम शुरू कर देते है |
6. यदि किसी सेल्फ एक्टिव व्यक्ति को किसी MLM कंपनी में ज्वाइन करा दिया जाएँ तो वो बहुत जल्दी टॉप लेवल पर बहुच जाता है, जबकि नॉन-एक्टिव लोग अपना पहला लेवल भी पूरा नहीं कर पाते और एक्टिव लोग अपने कुछ लेवल पूरे कर लेते है |
7. सेल्फ एक्टिव लोग एक टीम बनाकर काम करते है, जबकि नॉन-एक्टिव और एक्टिव लोग अकेले काम करते है |
8. सेल्फ एक्टिव लोगों के काम का कोई समय नहीं होता है ये कभी भी और कहीं भी काम करना शुरू कर देते है |
9.सेल्फ एक्टिव लोग सभी सवालों के जबाब खुद ही देते है या उनके जबाब खुद ही खोजते है | जबकि नॉन-एक्टिव और एक्टिव लोग सेल्फ एक्टिव लोगों से अपने सवालों के जबाब पूछते है |
10. सेल्फ एक्टिव लोग दुसरे लोगों से काम कराकर पैसे कमाते है, इसलिए ये बहुत जल्दी अमीर और करोड़पति बन जाते है |
11. सेल्फ एक्टिव लोगों को शर्म नहीं करते है और ना ही इनको अपनी बदनामी का कोई डर होता है, ये अपने काम पर पूरा भरोसा रखते है |

दोस्तों, आशा करता हूँ अब आप समझ गए होंगे की सफल, कामयाब और सेल्फ-एक्टिव लोग अमीर कैसे बन जाते है | ऊपर बताएं लक्षणों में से आपके अन्दर की विशेषताएं आप खुद ही देखलो और जानलों आप नॉन-एक्टिव हो या एक्टिव हो या सेल्फ एक्टिव हो | आप जिस तरीके के व्यक्ति होंगे आपको कामयाबी भी उसी तरीके की मिलेगी |

अगर जिंदगी में अमीर बनाना, कामयाब होना है तो सेल्फ एक्टिव बनिए, किसी भी काम के लिए किसी दुसरे के ऊपर निर्भर मत रहिये, अपना आप रोजाना मन लगाकर कीजिये और अपनी एक बड़ी टीम बनाकर काम कीजिये अकेले तो मजदूर काम करते है जो पूरी जिंदगी गरीबी झेलते रहते है |

धन्यबाद ! 

SPSINGH

SPLCASH ID-10

Join Now With Us

You can share this post!

HEMALATA

HEMALATA

By Admin


03 Comments

  • comments

    Nitiya, August 29, 2017

    Borem Ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry Lorem Ipsum has been the industry's standard dummy text.

  • comments

    Fahim, August 29, 2017

    Borem Ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry Lorem Ipsum has been the industry's standard dummy text.

Leave Comments